*BREAKING:*भारतीय प्रशासनिक सेवा के 1985 बैच के अधिकारी श्री शैलेष कुमार राजभाषा(सचिव) बने। *एसोसिएशन ने 14 मई को राजभाषा सचिव से मुलाक़ात कर, सर्वोच्च न्यायालय में डीओपीटी के लंबित मामले में कोई फैसला आने तक पात्र वरिष्ठ अनुवादकों को सहायक निदेशक के तौर पर तदर्थ पदोन्नति देने की मांग की; सचिव महोदय ने शीघ्रता से कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। *सहायक निदेशक के तौर पर पदोन्नति के मामले में 25 अप्रैल,2018 को कैट ने सुनवाई की अगली तारीख़ 25 मई,2018 तय की। *सहायक निदेशकों को रिवर्ट किए जाने के खिलाफ दायर मामले में कैट,दिल्ली ने 22 मार्च,2018 को सुनवाई करते हुए स्थगन आदेश जारी किया। *रिवर्ट किए गए सहायक निदेशकों से रिफंड लेने का नियम नहीं। *एसोसिएशन ने डीपीसी नियमित रूप से कराने की मांग की।

Tuesday, 9 May 2017

कनिष्ठ अनुवादक पदोन्नति के लिए दस्तावेज़ भेजें

मित्रो, 
कनिष्ठ अनुवादकों को पदोन्नत किया जाना है। किंतु इसके लिए मांगे गए दस्तावेज़ मुहैया कराने में देर हो रही है। नतीज़ा यह है कि जिन साथियों के काग़ज़ात आ गए हैं,उनके आदेश भी नहीं निकल पा रहे हैं। सभी संबंधित मित्र कृपया संलग्न सूची को देखें और जिनके नाम के साथ जो दस्तावेज़ अनुपलब्ध दर्शाए गए हैं,कृपया उन्हें शीघ्रता से विभाग को उपलब्ध कराएं ताकि आगे की कार्रवाई हो सके।




1 comment:

  1. document is not legible. it may be scanned first

    ReplyDelete

स्वयं छद्म रहकर दूसरों की ज़िम्मेदारी तय करने वालों की और विषयेतर टिप्पणियां स्वीकार नहीं की जाएंगी।